LEC First Batch – Participants

  1. Arvind Jain (Eklavya, Bhopal)

  2. Chandra Prakash Kada (Eklavya, Bhopal)

  3. Chandrakanta Nagda (Vidyabhawan Public School)

  4. Dhepale Pradeep (Pragat Shikshan Sansthan, Phaltan)

    मै प्रगत शिक्षण संस्था अंतर्गत कमला निंबकर बालभवन में ग्रंथालय शिक्षक का काम करता हू. बालवाडी को लेकर तिसरी कक्षा तक के बच्चोन्के साथ काम करता हू. हमारे ग्रंथालय का उद्देश यह है कि हर एक बच्चेके हाथ में किताब हो. इसलिये हम बालवाडी के बच्चों को भी पुस्तक घर देते है. बच्चों के साथ गतिविधियाँ करता हू. अपनी गाव में भी वाचनालय खोल है.

  5. Gayatri (Vidyabhawan QUEST Project)

  6. Vidyadevi Kakade (Pragat Shikshan Sansthan, Phaltan)

    मै प्रगत शिक्षण संस्था अंतर्गत कमला निंबकर बालभवन में ग्रंथालय शिक्षक का का करती हू. चौथी से दसवी कक्षा के बच्चोंको उपलब्ध किताबोन की जानकारी देना, बच्चोन के साथ अलग अलग गतिविधियाँ करना, किताबें इशू करना, किताबोन्की देखभाल करना, पालक वाचनालय का काम करना ये मेरे काम है.

  7. Lalit Menaria (Vidyabhawan Basic School)

  8. Lalit Purbia (Vidyabhawan Public School)

  9. Leelawati (OELP, Ajmer)

    मैं पाटन गाँव की बहू हूँ। पिछले दो वर्षों से ओ.ई.एल.पी लाईब्रेरी में बच्चों को अलग अलग तरीकों से किताबों से दोस्ती कराने की कोशिश कर रही हूँ। अब बागरिया जाति के भी 20-25 बच्चे नियमित रूप से लाईब्रेरी में जुड़ रहे हैं। मैं बहुत खुश हूँ क्योंकि उनकी स्थिति बहुत खराब है और अब उनकी छोटी दुनिया को किताबें छूने लगी हैं।

  10. Manisha Patil (Mumbai Mobile Crèches, Mumbai)

    For the past two years, I have been a teacher at Mumbai Mobile Creches. I live for the joyful moment of seeing each child’s enthusiasm as we read stories together.

  11. Meena Nimkar (QUEST, Thane)

    मैं क्वेस्ट संस्था के साथ रिसोर्स पर्सन का काम करती हूँ ।कक्षा पहली से चौथी के जो बच्चे पढ़ने में पीछे हैं, उनके व उनके शिक्षकों के साथ काम करना जैसे किताबें चुनना, उन पर गतिविधियाँ और अन्य सम्बंधित तैयारी करना, उस पर फीडबैक लेना, चर्चा आदि करना ।बच्चों की प्री-पोस्ट टेस्टिंग, उनके पालकों के साथ वर्कशॉप – इस तरह के जुड़े हुए कामों में भी सक्रिय हूँ।

  12. Mohan lal (Vidyabhawan Sr. Sec. School)

  13. Priyanka (Vidyabhawan QUEST Project)

  14. Rais Khan (Jan Sahas, Dewas)

    उज्जैन ज़िले में जन साहस संस्था का जो काम चल रहा है, उसमें मेरी अकादमिक कोऑर्डिनेटर की भूमिका है। मेरे काम में शामिल है – समुदाय / गाँव में खोले गए पुस्तकालयों में बच्चों का किताबों से जुड़ाव बनाना – कहानी सुनाने, गतिविधियों आदि के ज़रिये। जन साहस के अन्य कार्यों से भी में पूर्ण रूप से जुड़ा हूँ जैसे – सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को सहयोग बतौर ई.एल.पी. द्वारा पढ़ाना, नि:शुल्क बाल शिक्षा के अधिकार क़ानून का क्रियान्वन, बाल पंचायत बनाना आदि।

  15. Ramdayal Verma (Vidyabhawan Basic School)

  16. Rekha Longre (Muskan, Bhopal)

    बच्चों को कहानियां सुनाते सुनाते मेरा भी किताबों से लगाव बढ़ता गया। जैसे जैसे बच्चे किताबें घर लेकर जाते कहानियाँ पढ़ने को, मैंने भी अपनी
    दसवीं और बारहवीं की पढ़ाई के लिए घर में जगह बनाई। बच्चों को उनकी भाषा में कहानियां सुनाते हुए मेरे लिए भी एक दुनिया खुली है – उत्सुकता, ख़ुशी, स्वीकार्यता, दायरे तोड़ने की।

  17. Saba Khan (Muskan, Bhopal)

  18. Sandhya Singh (Mumbai Mobile Crèches, Mumbai)

    For the past year, I have been the Education Officer at Mumbai Mobile Creches. I use books as a way to foster expression, imagination and exploration among children of migrant construction workers in our centers.

  19. Sangeeta Dave (Vidyabhawan QUEST Project)

  20. Shabana (OELP, Ajmer)

    मैं पिछले तीन सालों से काकनियावास गाँव के सरकारी स्कूल में ओ. ई. एल.पी से जुड़कर कार्य कर रही हूँ और लाईब्रेरी भी चला रही हूँ। उदयपुर कोर्स से प्रभावित होकर मैंने अपनी लाईब्रेरी में पठन साथी बनाए। यह पठन साथी छोटे बच्चों को कहानी की किताबों से बहुत अच्छे से जोड़ रहे हैं। गर्मी की छुट्टी में भी यह बच्चे लगातार किताबें पढ़ने आए।

  21. Shankar (Vidyabhawan Education Resource centre)

  22. Sherel Jeevan Mendonsa (Jan Seva Mandal)

    Working in Nandurbar area in the field of primary education. crazy about books. helping to spread a love for books and reading amongst children.

  23. Shivaji Tanka Ghodraj  (Jan Seva Mandal)

    महाराष्ट्र के नंदुरबार ज़िले के धड़गाव कार्य क्षेत्र में मैं शैक्षिक प्रकल्प समन्वयक की भूमिका में काम देख रहा हूँ। मेरे अन्य काम के अलावा बच्चों के साथ कहानी की किताबें पढ़कर सुनाना, उस पर गतिविधियाँ करवाना, बच्चों में पढ़ने के प्रति रुचि पैदा करना, इस पर भी काम कर रहा हूँ।

  24. Shushil Joshi (Vidyabhawan Sr. Sec. School)

  25. Sulbha Bongarde (Door Step School, Mumbai)

    मुंबई डोअर स्टेप स्कुल में ट्रेन्रर के पद पर कार्यरत हु । वाचन व्रर्ग शिक्षिका कि समझ बडाना , बच्चो की वाचन प्रति रुचि बडाना इसलिए नए नए प्रर्योग गतिविधिया शुरु हॆ इसमें सहायता कर रही हु

  26. Surendra Parmar (Jan Sahas, Dewas)

    मैं देवास ज़िले के ग्रामीण क्षेत्र में अपनी संस्था में सुपरवाईज़र हूँ। बच्चों को समुदाय के पुस्तकालय से जोड़ने हेतु उनके साथ कहानी-कविता सुनना-सुनाना और रोचक गतिविधियाँ करवाता हूँ। सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को ई.एल.पी.(अर्ली लिटरेसी प्रोग्राम) से पढ़ाना, बच्चों की पंचायत बनाना और बाल शिक्षा अधिकार कानून पर काम करना भी मेरे काम के दायरे में है।

  27. Tulsi Paradkar (Door Step School, Mumbai)

    Today I am working at Door Step School, Mumbai, Maharashtra as a Reading Promoter trainer. I enjoy in teaching children how to read books and enjoy dicussing books with them. I also support Reading Promoters in book selection and planning activities around books.

  28. Tushar Marade (QUEST, Thane)

    मैं महाराष्ट्र के थाणे ज़िले से हूँ ।मैं इसी ज़िले के सोनाळे कार्य क्षेत्र में प्रकल्प सहायक की भूमिका का काम देखता हूँ । अभी मैं पुस्तकालय के प्रकल्प का काम देखता हूँ । बच्चों को कौन सी कहानी पढ़कर सुनाना, उनके स्तर समझकर उनके लिए किताबों का लेसन प्लॉन तैयार करना और उनको सुनाना। पुस्तकालय का सेटप करना और उसका पूरा काम देखना। पुस्तकालय में बच्चों को आने में और किताबों के साथ जुड़ने में रुचि पैदा करना।

  29. Yashpal (Vidyabhawan Education Resource centre)